इस तरह आपके किसी भी काम में नहीं आयेगी अड़चन

0
जब भी मैं किसी व्यक्ति को उनके जीवन में उन्हें धीमा होने या किसी काम को आराम से करने की सलाह देता हूं तो अक्सर वो मुझसे एक जायज सवाल पूछते हैं, “मेरे पास करने के लिए बहुत कुछ है। मैं इतनी सारी चीजें आराम-आराम से कैसे पूरा कर पाउंगा?” मैं एक शिक्षक हूं और अक्सर लोगों को मैं अपने अनुभव के आधार पर जवाब देता हूं। एक बड़े विश्वविद्यालय के अंग्रेजी विभाग के अध्यक्ष होने के तौर पर मेरी बहुत सारी जिम्मेदारियां हैं। लेकिन मैं हमेशा खुद को हर चीज आराम से और बिना किसी तनाव के करने के लिए प्रशिक्षित करता था क्योंकि मैं जानता था कि ऐसा करना मुझे आध्यात्मिक राह पर चलने में मदद करेगा। मैंने अपने हर उन कामों की सूची बनानी शुरु कर दी जिसे कैंपस के लिए भविष्य में मुझे में करना था और जो मुझे करना पसंद था। मैंने उस वक्त बिल्कुल ऐसा ही महसूस किया था जैसा आज लोग मुझे कह रहे हैं। मैं धीमी गति से काम कर इतने सारे महत्वपूर्ण मुद्दों को नहीं निपटा सकता था। फिर मुझे मेरी दादी का खयाल आया, जिन्हें गांव में बसे अपने बड़े से परिवार की बहुत सारी जिम्मेदारियां निभानी होती थी। वह अपनी उन जिम्मेदारियों को बहुत ही अच्छी तरह से पूरा करती थी। मुझे याद है कि उन्हें हमेशा पता होता था कि कौन सा काम बहुत जरूरी है और कौन सा बाद में भी किया जा सकता है। इसलिये उदाहरण के तौर पर उन्हें रखकर, मैंने अपनी सूची में यह देखना शुरु कर दिया कि कौन सा काम कम जरूरी है।.